Skip to main content

अल-माइदा आयत २० | Al-Maidah 5:20

And when
وَإِذْ
और जब
said
قَالَ
कहा
Musa
مُوسَىٰ
मूसा ने
to his people
لِقَوْمِهِۦ
अपनी क़ौम से
"O my people
يَٰقَوْمِ
ऐ मेरी क़ौम
remember
ٱذْكُرُوا۟
याद करो
(the) Favor
نِعْمَةَ
नेअमत
(of) Allah
ٱللَّهِ
अल्लाह की
upon you
عَلَيْكُمْ
जो तुम पर (हुई)
when
إِذْ
जब
He placed
جَعَلَ
उसने बनाए
among you
فِيكُمْ
तुम में
Prophets
أَنۢبِيَآءَ
अम्बिया
and made you
وَجَعَلَكُم
और उसने बनाया तुम्हें
kings
مُّلُوكًا
बादशाह
and He gave you
وَءَاتَىٰكُم
और उसने दिया तुम्हें
what
مَّا
वो जो
not
لَمْ
नहीं
He (had) given
يُؤْتِ
उसने दिया
(to) anyone
أَحَدًا
किसी एक को
from
مِّنَ
तमाम जहान वालों में से
the worlds
ٱلْعَٰلَمِينَ
तमाम जहान वालों में से

Waith qala moosa liqawmihi ya qawmi othkuroo ni'mata Allahi 'alaykum ith ja'ala feekum anbiyaa waja'alakum mulookan waatakum ma lam yuti ahadan mina al'alameena

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

और याद करो जब मूसा ने अपनी क़ौम के लोगों से कहा था, 'ऐ लोगों! अल्लाह की उस नेमत को याद करो जो उसने तुम्हें प्रदान की है। उसनें तुममें नबी पैदा किए और तुम्हें शासक बनाया और तुमको वह कुछ दिया जो संसार में किसी को नहीं दिया था

English Sahih:

And [mention, O Muhammad], when Moses said to his people, "O my people, remember the favor of Allah upon you when He appointed among you prophets and made you possessors and gave you that which He had not given anyone among the worlds.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

ऐ रसूल उनको वह वक्त याद (दिलाओ) जब मूसा ने अपनी क़ौम से कहा था कि ऐ मेरी क़ौम जो नेअमते ख़ुदा ने तुमको दी है उसको याद करो इसलिए कि उसने तुम्हीं लोगों से बहुतेरे पैग़म्बर बनाए और तुम ही लोगों को बादशाह (भी) बनाया और तुम्हें वह नेअमतें दी हैं जो सारी ख़ुदायी में किसी एक को न दीं

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तथा याद करो, जब मूसा ने अपनी जाति से कहाः हे मेरी जाति! अपने ऊपर अल्लाह के पुरस्कार को याद करो कि उसने तुममें नबी और शासक बनाये तथा तुम्हें वह कुछ दिया, जो संसार वासियों में किसी को नहीं दिया।