Skip to main content

अल-इन्फिकार आयत ८ | Al-Infitar 82:8

In
فِىٓ
जिस सूरत में
whatever
أَىِّ
जिस सूरत में
form
صُورَةٍ
जिस सूरत में
that
مَّا
जो
He willed
شَآءَ
उसने चाहा
He assembled you
رَكَّبَكَ
उसने जोड़ दिया तुझे

Fee ayyi sooratin ma shaa rakkabaka

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

जिस रूप में चाहा उसने तुझे जोड़कर तैयार किया

English Sahih:

In whatever form He willed has He assembled you.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और जिस सूरत में उसने चाहा तेरे जोड़ बन्द मिलाए

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

जिस रूप में चाहा बना दिया।[1]