Skip to main content

अल-मसद आयत ५ | Al-Masad 111:5

Around
فِى
उसकी गर्दन में
her neck
جِيدِهَا
उसकी गर्दन में
(will be) a rope
حَبْلٌ
रस्सी होगी
of
مِّن
बटी हुई
palm-fiber
مَّسَدٍۭ
बटी हुई

Fee jeediha hablun min masadin

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

उसकी गरदन में खजूर के रेसों की बटी हुई रस्सी पड़ी है

English Sahih:

Around her neck is a rope of [twisted] fiber.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और उसके गले में बटी हुई रस्सी बँधी है

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

उसकी गर्दन में मूँज की रस्सी होगी।[1]