Skip to main content
bismillah
تَبَّتْ
टूट गए
يَدَآ
दोनों हाथ
أَبِى
अबू लहब के
لَهَبٍ
अबू लहब के
وَتَبَّ
और वो हलाक हुआ

Tabbat yada abee lahabin watabba

टूट गए अबू लहब के दोनों हाथ और वह स्वयं भी विनष्ट हो गया!

Tafseer (तफ़सीर )
مَآ
ना
أَغْنَىٰ
काम आया
عَنْهُ
उसे
مَالُهُۥ
माल उसका
وَمَا
और जो
كَسَبَ
उसने कमाया

Ma aghna 'anhu maluhu wama kasaba

न उसका माल उसके काम आया और न वह कुछ जो उसने कमाया

Tafseer (तफ़सीर )
سَيَصْلَىٰ
अनक़रीब वो जलेगा
نَارًا
आग में
ذَاتَ
शोले वाली
لَهَبٍ
शोले वाली

Sayasla naran thata lahabin

वह शीघ्र ही प्रज्वलित भड़कती आग में पड़ेगा,

Tafseer (तफ़सीर )
وَٱمْرَأَتُهُۥ
और उसकी बीवी
حَمَّالَةَ
उठाने वाली
ٱلْحَطَبِ
लकड़ी के गठ्ठे को

Waimraatuhu hammalata alhatabi

और उसकी स्त्री भी ईधन लादनेवाली,

Tafseer (तफ़सीर )
فِى
उसकी गर्दन में
جِيدِهَا
उसकी गर्दन में
حَبْلٌ
रस्सी होगी
مِّن
बटी हुई
مَّسَدٍۭ
बटी हुई

Fee jeediha hablun min masadin

उसकी गरदन में खजूर के रेसों की बटी हुई रस्सी पड़ी है

Tafseer (तफ़सीर )
कुरान की जानकारी :
अल-मसद
القرآن الكريم:المسد
आयत सजदा (سجدة):-
सूरा (latin):Al-Lahab
सूरा:111
कुल आयत:5
कुल शब्द:20
कुल वर्ण:77
रुकु:1
वर्गीकरण:मक्कन सूरा
Revelation Order:6
से शुरू आयत:6216