Skip to main content

अन नहल आयत १०७ | An-Nahl 16:107

That (is)
ذَٰلِكَ
ये
because
بِأَنَّهُمُ
बवजह उसके कि वो
they preferred
ٱسْتَحَبُّوا۟
उन्होंने तरजीह दी
the life
ٱلْحَيَوٰةَ
ज़िन्दगी को
(of) the world
ٱلدُّنْيَا
दुनिया की
over
عَلَى
आख़िरत पर
the Hereafter
ٱلْءَاخِرَةِ
आख़िरत पर
and that
وَأَنَّ
और बेशक
Allah
ٱللَّهَ
अल्लाह
(does) not
لَا
नहीं हिदायत देता
guide
يَهْدِى
नहीं हिदायत देता
the people
ٱلْقَوْمَ
उन लोगों को
the disbelievers
ٱلْكَٰفِرِينَ
जो काफ़िर हैं

Thalika biannahumu istahabboo alhayata alddunya 'ala alakhirati waanna Allaha la yahdee alqawma alkafireena

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

यह इसलिए कि उन्होंने आख़िरत की अपेक्षा सांसारिक जीवन को पसन्द किया और यह कि अल्लाह कुफ़्र करनेवालो लोगों का मार्गदर्शन नहीं करता

English Sahih:

That is because they preferred the worldly life over the Hereafter and that Allah does not guide the disbelieving people.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

ये इस वजह से कि उन लोगों ने दुनिया की चन्द रोज़ा ज़िन्दगी को आख़िरत पर तरजीह दी और इस वजह से की ख़ुदा काफिरों को हरगिज़ मंज़िले मक़सूद तक नहीं पहुँचाया करता

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

ये इसलिए कि उन्होंने सांसारिक जीवन को प्रलोक पर प्राथमिकता दी है और वास्तव में अल्लाह, काफ़िरों को सुपथ नहीं दिखाता।