Skip to main content

अल बकराह आयत ६७ | Al-Baqrah 2:67

And when
وَإِذْ
और जब
said
قَالَ
कहा
Musa
مُوسَىٰ
मूसा ने
to his people
لِقَوْمِهِۦٓ
अपनी क़ौम से
"Indeed
إِنَّ
बेशक
Allah
ٱللَّهَ
अल्लाह
commands you
يَأْمُرُكُمْ
हुक्म देता है तुम्हें
that
أَن
कि
you slaughter
تَذْبَحُوا۟
तुम ज़िबाह करो
a cow"
بَقَرَةًۖ
एक गाय
They said
قَالُوٓا۟
उन्होंने कहा
"Do you take us
أَتَتَّخِذُنَا
क्या तुम बनाते हो हमें
(in) ridicule"
هُزُوًاۖ
मज़ाक़
He said
قَالَ
उसने कहा
"I seek refuge
أَعُوذُ
मैं पनाह लेता हूँ
in Allah
بِٱللَّهِ
अल्लाह की
that
أَنْ
कि
I be
أَكُونَ
मैं हो जाऊँ
among
مِنَ
जाहिलों में से
the ignorant"
ٱلْجَٰهِلِينَ
जाहिलों में से

Waith qala moosa liqawmihi inna Allaha yamurukum an tathbahoo baqaratan qaloo atattakhithuna huzuwan qala a'oothu biAllahi an akoona mina aljahileena

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

और याद करो जब मूसा ने अपनी क़ौम से कहा, 'निश्चय ही अल्लाह तुम्हें आदेश देता है कि एक गाय जब्ह करो।' कहने लगे, 'क्या तुम हमसे परिहास करते हो?' उसने कहा, 'मैं इससे अल्लाह की पनाह माँगता हूँ कि जाहिल बनूँ।'

English Sahih:

And [recall] when Moses said to his people, "Indeed, Allah commands you to slaughter a cow." They said, "Do you take us in ridicule?" He said, "I seek refuge in Allah from being among the ignorant."

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और (वह वक्त याद करो) जब मूसा ने अपनी क़ौम से कहा कि खुदा तुम लोगों को ताकीदी हुक्म करता है कि तुम एक गाय ज़िबाह करो वह लोग कहने लगे क्या तुम हमसे दिल्लगी करते हो मूसा ने कहा मैं खुदा से पनाह माँगता हूँ कि मैं जाहिल बनूँ

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तथा (याद करो) जब मूसा ने अपनी जाति से कहाः अल्लाह तुम्हें एक गाय वध करने का आदेश देता है। उन्होंने कहाः क्या तुम हमसे उपहास कर रहे हो? (मूसा ने) कहाः मैं अल्लाह की शरण माँगता हूँ कि मूर्खों में से हो जाऊँ।