Skip to main content

मुहम्मद आयत १३ | Muhammad 47:13

And how many
وَكَأَيِّن
और कितनी ही
of
مِّن
बस्तियाँ
a town
قَرْيَةٍ
बस्तियाँ
which
هِىَ
वो
(was) stronger
أَشَدُّ
ज़्यादा शदीद थीं
(in) strength
قُوَّةً
क़ुव्वत में
than
مِّن
आपकी बस्ती से
your town
قَرْيَتِكَ
आपकी बस्ती से
which
ٱلَّتِىٓ
वो जिसने
has driven you out?
أَخْرَجَتْكَ
निकाल दिया आपको
We destroyed them
أَهْلَكْنَٰهُمْ
हलाक किया हमने उन्हें
so no
فَلَا
पस ना था
helper
نَاصِرَ
कोई मदद करने वाला
for them
لَهُمْ
उनके लिए

Wakaayyin min qaryatin hiya ashaddu quwwatan min qaryatika allatee akhrajatka ahlaknahum fala nasira lahum

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

कितनी ही बस्तियाँ थी जो शक्ति में तुम्हारी उस बस्ती से, जिसने तुम्हें निकाल दिया, बढ़-चढ़कर थीं। हमने उन्हे विनष्टम कर दिया! फिर कोई उनका सहायक न हुआ

English Sahih:

And how many a city was stronger than your city [i.e., Makkah] which drove you out? We destroyed them; and there was no helper for them.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और जिस बस्ती से तुम लोगों ने निकाल दिया उससे ज़ोर में कहीं बढ़ चढ़ के बहुत सी बस्तियाँ थीं जिनको हमने तबाह बर्बाद कर दिया तो उनका कोई मददगार भी न हुआ

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तथा बहुत-सी बस्तियों को, जो अधिक शक्तिशाली थीं आपकी उस बस्ती से, जिसने आपको निकाल दिया, हमने ध्वस्त कर दिया, तो कोई सहायक न हुआ उनका।