Skip to main content

अल-अनाम आयत ५६ | Al-Anam 6:56

Say
قُلْ
कह दीजिए
"Indeed I
إِنِّى
बेशक मैं
[I] am forbidden
نُهِيتُ
रोका गया हूँ मैं
that
أَنْ
कि
I worship
أَعْبُدَ
मैं इबादत करूँ
those whom
ٱلَّذِينَ
उनकी जिन्हें
you call
تَدْعُونَ
तुम पुकारते हो
from"
مِن
सिवाय
besides"
دُونِ
सिवाय
Allah"
ٱللَّهِۚ
अल्लाह के
Say
قُل
कह दीजिए
"Not
لَّآ
नहीं मैं पैरवी करूँगा
I follow
أَتَّبِعُ
नहीं मैं पैरवी करूँगा
your (vain) desires
أَهْوَآءَكُمْۙ
तुम्हारी ख़्वाहिशात की
certainly
قَدْ
तहक़ीक़
I would go astray
ضَلَلْتُ
मैं भटक गया
then
إِذًا
तब
and not
وَمَآ
और नहीं (हूँगा)
I (would be)
أَنَا۠
मैं
from
مِنَ
हिदायत पाने वालों में से
the guided-ones"
ٱلْمُهْتَدِينَ
हिदायत पाने वालों में से

Qul innee nuheetu an a'buda allatheena tad'oona min dooni Allahi qul la attabi'u ahwaakum qad dalaltu ithan wama ana mina almuhtadeena

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

कह दो, 'तुम लोग अल्लाह से हटकर जिन्हें पुकारते हो, उनकी बन्दगी करने से मुझे रोका गया है।' कहो, 'मैं तुम्हारी इच्छाओं का अनुपालन नहीं करता, क्योंकि तब तो मैं मार्ग से भटक गया और मार्ग पानेवालों में से न रहा।'

English Sahih:

Say, "Indeed, I have been forbidden to worship those you invoke besides Allah." Say, "I will not follow your desires, for I would then have gone astray, and I would not be of the [rightly] guided."

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

(ऐ रसूल) तुम कह दो कि मुझसे उसकी मनाही की गई है कि मैं ख़ुदा को छोड़कर उन माबूदों की इबादत करुं जिन को तुम पूजा करते हो (ये भी) कह दो कि मै तो तुम्हारी (नाफसानी) ख्वाहिश पर चलने का नहीं (वरना) फिर तो मै गुमराह हो जाऊॅगा और हिदायत याफता लोगों में न रहूँगा

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

(हे नबी!) आप (मुश्रिकों से) कह दें कि मुझे रोक दिया गया है कि मैं उनकी वंदना करूँ, जिन्हें तुम अल्लाह के सिवा पुकारते हो। उनसे कह दो कि मैं तुम्हारी आकांक्षाओं पर नहीं चल सकता। मैंने ऐसा किया तो मैं सत्य से कुपथ हो गया और मैं सुपथों में से नहीं रह जाऊँगा।