Skip to main content

अल-कियामा आयत ३ | Al-Qiyamah 75:3

Does think
أَيَحْسَبُ
क्या समझता है
[the] man
ٱلْإِنسَٰنُ
इन्सान
that not
أَلَّن
कि हरगिज़ नहीं
We will assemble
نَّجْمَعَ
हम जमा करेंगे
his bones?
عِظَامَهُۥ
उसकी हड्डियाँ

Ayahsabu alinsanu allan najma'a 'ithamahu

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

क्या मनुष्य यह समझता है कि हम कदापि उसकी हड्डियों को एकत्र न करेंगे?

English Sahih:

Does man think that We will not assemble his bones?

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

क्या इन्सान ये ख्याल करता है (कि हम उसकी हड्डियों को बोसीदा होने के बाद) जमा न करेंगे हाँ (ज़रूर करेंगें)

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

क्या मनुष्य समझता है कि हम एकत्र नहीं कर सकेंगे दोबारा उसकी अस्थियों को?