Skip to main content

अल-फतह आयत ११ | Al-Fatah 48:11

Will say
سَيَقُولُ
अनक़रीब कहेंगे
to you
لَكَ
आपको
those who remained behind
ٱلْمُخَلَّفُونَ
पीछे रहने वाले
of
مِنَ
देहाती/ बदवियों में से
the Bedouins
ٱلْأَعْرَابِ
देहाती/ बदवियों में से
"Kept us busy
شَغَلَتْنَآ
कि मश्ग़ूल कर लिया हमें
our properties
أَمْوَٰلُنَا
हमारे मालों ने
and our families
وَأَهْلُونَا
और हमारे घर वालों ने
so ask forgiveness
فَٱسْتَغْفِرْ
पस बख़्शिश माँगिए
for us"
لَنَاۚ
हमारे लिए
They say
يَقُولُونَ
वो कहते हैं
with their tongues
بِأَلْسِنَتِهِم
अपनी ज़बानों से
what
مَّا
जो
is not
لَيْسَ
नहीं
in
فِى
उनके दिलों में
their hearts
قُلُوبِهِمْۚ
उनके दिलों में
Say
قُلْ
कह दीजिए
"Then who
فَمَن
पस कौन
has power
يَمْلِكُ
मालिक होगा
for you
لَكُم
तुम्हारे लिए
against
مِّنَ
अल्लाह से
Allah
ٱللَّهِ
अल्लाह से
(in) anything
شَيْـًٔا
किसी चीज़ क
if
إِنْ
अगर
He intends
أَرَادَ
उसने इरादा किया
for you
بِكُمْ
तुम्हारे साथ
harm
ضَرًّا
किसी नुक़्सान का
or
أَوْ
या
He intends
أَرَادَ
उसने इरादा किया
for you
بِكُمْ
तुम्हारे साथ
a benefit?
نَفْعًۢاۚ
किसी नफ़ा का
Nay
بَلْ
बल्कि
is
كَانَ
है
Allah
ٱللَّهُ
अल्लाह
of what
بِمَا
उससे जो
you do
تَعْمَلُونَ
तुम अमल करते हो
All-Aware
خَبِيرًۢا
पूरा बाख़बर

Sayaqoolu laka almukhallafoona mina ala'rabi shaghalatna amwaluna waahloona faistaghfir lana yaqooloona bialsinatihim ma laysa fee quloobihim qul faman yamliku lakum mina Allahi shayan in arada bikum darran aw arada bikum naf'an bal kana Allahu bima ta'maloona khabeeran

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

जो बद्‌दू पीछे रह गए थे, वे अब तुमसे कहेगे, 'हमारे माल और हमारे घरवालों ने हमें व्यस्त कर रखा था; तो आप हमारे लिए क्षमा की प्रार्थना कीजिए।' वे अपनी ज़बानों से वे बातें कहते है जो उनके दिलों में नहीं। कहना कि, 'कौन है जो अल्लाह के मुक़ाबले में तुम्हारे किए किसी चीज़ का अधिकार रखता है, यदि वह तुम्हें कोई हानि पहुँचानी चाहे या वह तुम्हें कोई लाभ पहुँचाने का इरादा करे? बल्कि जो कुछ तुम करते हो अल्लाह उसकी ख़बर रखता है। -

English Sahih:

Those who remained behind of the bedouins will say to you, "Our properties and our families occupied us, so ask forgiveness for us." They say with their tongues what is not within their hearts. Say, "Then who could prevent Allah at all if He intended for you harm or intended for you benefit? Rather, ever is Allah, of what you do, Aware.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

जो गंवार देहाती (हुदैबिया से) पीछे रह गए अब वह तुमसे कहेंगे कि हमको हमारे माल और लड़के वालों ने रोक रखा तो आप हमारे वास्ते (ख़ुदा से) मग़फिरत की दुआ माँगें ये लोग अपनी ज़बान से ऐसी बातें कहते हैं जो उनके दिल में नहीं (ऐ रसूल) तुम कह दो कि अगर ख़ुदा तुम लोगों को नुक़सान पहुँचाना चाहे या तुम्हें फायदा पहुँचाने का इरादा करे तो ख़ुदा के मुक़ाबले में तुम्हारे लिए किसका बस चल सकता है बल्कि जो कुछ तुम करते हो ख़ुदा उससे ख़ूब वाक़िफ है

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

(हे नबी!) वे[1] शीघ्र ही आपसे कहेंगे, जो पीछे छोड़ दिये गये बद्दुओं में से कि हम लगे रह गये अपने धनों तथा परिवार में। अतः, आप क्षमा की प्रार्थना कर दें हमारे लिए। वे अपने मुखों से वो बात कहेंगे, जो उनके दिलों में नहीं है। आप उनसे कहिये कि कौन है, जो अधिकार रखता हो तुम्हारे लिए, अल्लाह के सामने किसी चीज़ का, यदि अल्लाह तुम्हें कोई हानि पहुँचाना चाहे या कोई लाभ पहुँचाना चाहे? बल्कि अल्लाह सूचित है उससे, जो तुम कर रहे हो।