Skip to main content

अल-माइदा आयत ४६ | Al-Maidah 5:46

And We sent
وَقَفَّيْنَا
और पीछे भेजा हमने
on
عَلَىٰٓ
उनके आसार पर
their footsteps
ءَاثَٰرِهِم
उनके आसार पर
Isa
بِعِيسَى
ईसा इब्ने मरियम को
son
ٱبْنِ
ईसा इब्ने मरियम को
(of) Maryam
مَرْيَمَ
ईसा इब्ने मरियम को
confirming
مُصَدِّقًا
तसदीक़ करने वाला
what
لِّمَا
उसकी जो
(was) between
بَيْنَ
पहले है इससे
his hands
يَدَيْهِ
पहले है इससे
of
مِنَ
तौरात में से
the Taurat
ٱلتَّوْرَىٰةِۖ
तौरात में से
and We gave him
وَءَاتَيْنَٰهُ
और दी हमने उसे
the Injeel
ٱلْإِنجِيلَ
इन्जील
in it
فِيهِ
उसमें थी
(was) Guidance
هُدًى
हिदायत
and light
وَنُورٌ
और नूर
and confirming
وَمُصَدِّقًا
और तसदीक़ करने वाली
what
لِّمَا
उसकी जो
(was) between
بَيْنَ
पहले है इससे
his hands
يَدَيْهِ
पहले है इससे
of
مِنَ
तौरात में से
the Taurat
ٱلتَّوْرَىٰةِ
तौरात में से
and a Guidance
وَهُدًى
और हिदायत
and an admonition
وَمَوْعِظَةً
और नसीहत
for the God conscious
لِّلْمُتَّقِينَ
मुत्तक़ी लोगों से

Waqaffayna 'ala atharihim bi'eesa ibni maryama musaddiqan lima bayna yadayhi mina alttawrati waataynahu alinjeela feehi hudan wanoorun wamusaddiqan lima bayna yadayhi mina alttawrati wahudan wamaw'ithatan lilmuttaqeena

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

और उनके पीछ उन्हीं के पद-चिन्हों पर हमने मरयम के बेटे ईसा को भेजा जो पहले से उसके सामने मौजूद किताब 'तौरात' की पुष्टि करनेवाला था। और हमने उसे इनजील प्रदान की, जिसमें मार्गदर्शन और प्रकाश था। और वह अपनी पूर्ववर्ती किताब तौरात की पुष्टि करनेवाली थी, और वह डर रखनेवालों के लिए मार्गदर्शन और नसीहत थी

English Sahih:

And We sent, following in their footsteps, Jesus, the son of Mary, confirming that which came before him in the Torah; and We gave him the Gospel, in which was guidance and light and confirming that which preceded it of the Torah as guidance and instruction for the righteous.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और हम ने उन्हीं पैग़म्बरों के क़दम ब क़दम मरियम के बेटे ईसा को चलाया और वह इस किताब तौरैत की भी तस्दीक़ करते थे जो उनके सामने (पहले से) मौजूद थी और हमने उनको इन्जील (भी) अता की जिसमें (लोगों के लिए हर तरह की) हिदायत थी और नूर (ईमान) और वह इस किताब तौरेत की जो वक्ते नुज़ूले इन्जील (पहले से) मौजूद थी तसदीक़ करने वाली और परहेज़गारों की हिदायत व नसीहत थी

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

फिर हमने उन नबियों के पश्चात् मर्यम के पुत्र ईसा को भेजा, उसे सच बताने वाला, जो उसके सामने तौरात थी तथा उसे इंजील प्रदान की, जिसमें मार्गदर्शन तथा प्रकाश है, उसे सच बताने वाली, जो उसके आगे तौरात थी तथा अल्लाह से डरने वालों के लिए सर्वथा मार्गदर्शन तथा शिक्षा थी।