Skip to main content

अल-माइदा आयत ६२ | Al-Maidah 5:62

And you see
وَتَرَىٰ
और आप देखेंगे
many
كَثِيرًا
कसीर तादाद को
of them
مِّنْهُمْ
उनमें से
hastening
يُسَٰرِعُونَ
वो दौड़ धूप करते हैं
into
فِى
गुनाह में
[the] sin
ٱلْإِثْمِ
गुनाह में
and [the] transgression
وَٱلْعُدْوَٰنِ
और ज़्यादती में
and eating
وَأَكْلِهِمُ
और अपने खाने में
the forbidden
ٱلسُّحْتَۚ
हराम को
Surely evil
لَبِئْسَ
अलबत्ता कितना बुरा है
(is) what
مَا
जो
they were
كَانُوا۟
थे वो
doing
يَعْمَلُونَ
वो अमल करते

Watara katheeran minhum yusari'oona fee alithmi waal'udwani waaklihimu alssuhta labisa ma kanoo ya'maloona

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

तुम देखते हो कि उनमें से बहुतेरे लोग हक़ मारने, ज़्यादती करने और हरामख़ोरी में बड़ी तेज़ी दिखाते है। निश्चय ही बहुत ही बुरा है, जो वे कर रहे है

English Sahih:

And you see many of them hastening into sin and aggression and the devouring of [what is] unlawful. How wretched is what they have been doing.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

(ऐ रसूल) तुम उनमें से बहुतेरों को देखोगे कि गुनाह और सरकशी और हरामख़ोरी की तरफ़ दौड़ पड़ते हैं जो काम ये लोग करते थे वह यक़ीनन बहुत बुरा है

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तथा आप उनमें से बहुतों को देखेंगे कि पाप तथा अत्याचार और अपने अवैध खाने में दौड़ रहे हैं। वे बड़ा कुकर्म कर रहे हैं।