Skip to main content

अल-फज्र आयत १७ | Al-Fajr 89:17

Nay!
كَلَّاۖ
हरगिज़ नहीं
But
بَل
बल्कि
not
لَّا
नहीं
you honor
تُكْرِمُونَ
तुम इज़्ज़त देते
the orphan
ٱلْيَتِيمَ
यतीम को

Kalla bal la tukrimoona alyateema

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

कदापि नहीं, बल्कि तुम अनाथ का सम्मान नहीं करते,

English Sahih:

No! But you do not honor the orphan

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

हरगिज़ नहीं बल्कि तुम लोग न यतीम की ख़ातिरदारी करते हो

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

ऐसा नहीं, बल्कि तुम अनाथ का आदर नहीं करते।