Skip to main content

अल-हज आयत ७१ | Al-Hajj 22:71

And they worship
وَيَعْبُدُونَ
और वो इबादत करते हैं
besides Allah
مِن
सिवाए
besides Allah
دُونِ
सिवाए
besides Allah
ٱللَّهِ
अल्लाह के
what
مَا
उसकी जो
not
لَمْ
नहीं
He (has) sent down
يُنَزِّلْ
उसने नाज़िल की
for it
بِهِۦ
जिसकी
any authority
سُلْطَٰنًا
कोई दलील
and what
وَمَا
और उसकी जो
not
لَيْسَ
नहीं है
they have
لَهُم
उनके लिए
of it
بِهِۦ
जिसका
any knowledge
عِلْمٌۗ
कोई इल्म
And not
وَمَا
और नहीं
(will be) for the wrongdoers
لِلظَّٰلِمِينَ
ज़ालिमों के लिए
any
مِن
कोई मददगार
helper
نَّصِيرٍ
कोई मददगार

Waya'budoona min dooni Allahi ma lam yunazzil bihi sultanan wama laysa lahum bihi 'ilmun wama lilththalimeena min naseerin

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

और वे अल्लाह से इतर उनकी बन्दगी करते है जिनके लिए न तो उसने कोई प्रमाण उतारा और न उन्हें उनके विषय में कोई ज्ञान ही है। और इन ज़ालिमों को कोई सहायक नहीं

English Sahih:

And they worship besides Allah that for which He has not sent down authority and that of which they have no knowledge. And there will not be for the wrongdoers any helper.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

बेशक ये (सब कुछ) खुदा पर आसान है और ये लोग खुदा को छोड़कर उन लोगों की इबादत करते हैं जिनके लिए न तो ख़ुदा ही ने कोई सनद नाज़िल की है और न उस (के हक़ होने) का खुद उन्हें इल्म है और क़यामत में तो ज़ालिमों का कोई मददगार भी नहीं होगा

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

और वे इबादत (वंदना) अल्लाह के अतिरिक्त उसकी कर रहे हैं, जिसका उसने कोई प्रमाण नहीं उतारा है और न उन्हें उसका कोई ज्ञान है और अत्याचारियों का कोई सहायक नहीं होगा।