Skip to main content

अद-दुखान आयत ३० | Ad-Dukhan 44:30

And certainly
وَلَقَدْ
और अलबत्ता तहक़ीक़
We saved
نَجَّيْنَا
निजात दी हमने
(the) Children of Israel
بَنِىٓ
बनी इस्राईल को
(the) Children of Israel
إِسْرَٰٓءِيلَ
बनी इस्राईल को
from
مِنَ
अज़ाब से
the punishment
ٱلْعَذَابِ
अज़ाब से
the humiliating
ٱلْمُهِينِ
ज़िल्लत के

Walaqad najjayna banee israeela mina al'athabi almuheeni

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

इस प्रकार हमने इसराईल की सन्तान को अपमानजनक यातना से

English Sahih:

And We certainly saved the Children of Israel from the humiliating torment –

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और हमने बनी इसराईल को ज़िल्लत के अज़ाब से फिरऔन (के पन्जे) से नजात दी

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तथा हमने बचा लिया इस्राईल की संतान को, अपमानकारी यातना से।