Skip to main content

अज-ज़ुमर आयत १७ | Az-Zumar 39:17

And those who
وَٱلَّذِينَ
और वो जिन्होंने
avoid
ٱجْتَنَبُوا۟
इज्तिनाब किया
the false gods
ٱلطَّٰغُوتَ
ताग़ूत से
lest
أَن
कि
they worship them
يَعْبُدُوهَا
वो इबादत करें उसकी
and turn
وَأَنَابُوٓا۟
और रुजूअ किया
to
إِلَى
तरफ़ अल्लाह के
Allah
ٱللَّهِ
तरफ़ अल्लाह के
for them
لَهُمُ
उनके लिए
(is) the glad tiding
ٱلْبُشْرَىٰۚ
ख़ुशख़बरी है
So give glad tidings
فَبَشِّرْ
पस ख़ुशख़बरी दे दीजिए
(to) My slaves
عِبَادِ
मेरे बन्दों को

Waallatheena ijtanaboo alttaghoota an ya'budooha waanaboo ila Allahi lahumu albushra fabashshir 'ibadi

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

रहे वे लोग जो इससे बचे कि वे ताग़ूत (बढ़े हुए फ़सादी) की बन्दगी करते है और अल्लाह की ओर रुजू हुए, उनके लिए शुभ सूचना है।

English Sahih:

But those who have avoided Taghut, lest they worship it, and turned back to Allah – for them are good tidings. So give good tidings to My servants

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और जो लोग बुतों से उनके पूजने से बचे रहे और ख़ुदा ही की तरफ रूजु की उनके लिए (जन्नत की) ख़ुशख़बरी है

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

जो बचे रहे ताग़ूत (असुर)[1] की पूजा से तथा ध्यानमग्न हो गये अल्लाह की ओर, तो उन्हीं के लिए शुभ सूचना है। अतः, आप शुभ सूचना सुना दें मेरे भक्तों को।