Skip to main content
bismillah
وَٱلنَّٰزِعَٰتِ
क़सम है (उन फ़रिश्तों की ) जो खींचने वाले हैं
غَرْقًا
डूब कर

Waalnnazi'ati gharqan

गवाह है वे (हवाएँ) जो ज़ोर से उखाड़ फैंके,

Tafseer (तफ़सीर )
وَٱلنَّٰشِطَٰتِ
और जो आसानी से निकालने वाले हैं
نَشْطًا
आसानी से निकालना

Waalnnashitati nashtan

और गवाह है वे (हवाएँ) जो नर्मी के साथ चलें,

Tafseer (तफ़सीर )
وَٱلسَّٰبِحَٰتِ
और जो तैरने वाले हैं
سَبْحًا
तेज़ी से तैरना

Waalssabihati sabhan

और गवाह है वे जो वायुमंडल में तैरें,

Tafseer (तफ़सीर )
فَٱلسَّٰبِقَٰتِ
फिर जो सबक़त करने वाले हैं
سَبْقًا
सबक़त करना

Faalssabiqati sabqan

फिर एक-दूसरे से अग्रसर हों,

Tafseer (तफ़सीर )
فَٱلْمُدَبِّرَٰتِ
फिर जो तदबीर करने वाले हैं
أَمْرًا
किसी काम की

Faalmudabbirati amran

और मामले की तदबीर करें

Tafseer (तफ़सीर )
يَوْمَ
जिस दिन
تَرْجُفُ
काँपेगी
ٱلرَّاجِفَةُ
काँपने वाली

Yawma tarjufu alrrajifatu

जिस दिन हिला डालेगी हिला डालनेवाले घटना,

Tafseer (तफ़सीर )
تَتْبَعُهَا
पीछे आएगी उसके
ٱلرَّادِفَةُ
पीछे आने वाली

Tatba'uha alrradifatu

उसके पीछ घटित होगी दूसरी (घटना)

Tafseer (तफ़सीर )
قُلُوبٌ
कुछ दिल
يَوْمَئِذٍ
उस दिन
وَاجِفَةٌ
धड़कने वाले होंगे

Quloobun yawmaithin wajifatun

कितने ही दिल उस दिन काँप रहे होंगे,

Tafseer (तफ़सीर )
أَبْصَٰرُهَا
निगाहें उनकी
خَٰشِعَةٌ
झुकी होंगी

Absaruha khashi'atun

उनकी निगाहें झुकी होंगी

Tafseer (तफ़सीर )
يَقُولُونَ
वो कहते हैं
أَءِنَّا
क्या बेशक हम
لَمَرْدُودُونَ
अलबत्ता फेरे जाने वाले हैं
فِى
पहली हालत में
ٱلْحَافِرَةِ
पहली हालत में

Yaqooloona ainna lamardoodoona fee alhafirati

वे कहते है, 'क्या वास्तव में हम पहली हालत में फिर लौटाए जाएँगे?

Tafseer (तफ़सीर )
कुरान की जानकारी :
अन-नाज़िआ़त
القرآن الكريم:النازعات
आयत सजदा (سجدة):-
सूरा (latin):An-Nazi'at
सूरा:79
कुल आयत:46
कुल शब्द:197
कुल वर्ण:753
रुकु:2
वर्गीकरण:मक्कन सूरा
Revelation Order:81
से शुरू आयत:5712