Skip to main content
bismillah
وَٱلضُّحَىٰ
क़सम है चाश्त की

Waaldduha

साक्षी है चढ़ता दिन,

Tafseer (तफ़सीर )
وَٱلَّيْلِ
और रात की
إِذَا
जब
سَجَىٰ
वो छा जाए

Waallayli itha saja

और रात जबकि उसका सन्नाटा छा जाए

Tafseer (तफ़सीर )
مَا
नहीं
وَدَّعَكَ
छोड़ा आपको
رَبُّكَ
आपके रब ने
وَمَا
और ना
قَلَىٰ
वो नाराज़ हुआ

Ma wadda'aka rabbuka wama qala

तुम्हारे रब ने तुम्हें न तो विदा किया और न वह बेज़ार (अप्रसन्न) हुआ

Tafseer (तफ़सीर )
وَلَلْءَاخِرَةُ
और यक़ीनन आख़िरत
خَيْرٌ
बेहतर है
لَّكَ
आपके लिए
مِنَ
पहली (दुनिया) से
ٱلْأُولَىٰ
पहली (दुनिया) से

Walalakhiratu khayrun laka mina aloola

और निश्चय ही बाद में आनेवाली (अवधि) तुम्हारे लिए पहलेवाली से उत्तम है

Tafseer (तफ़सीर )
وَلَسَوْفَ
और यक़ीनन अनक़रीब
يُعْطِيكَ
अता करेगा आपको
رَبُّكَ
रब आपका
فَتَرْضَىٰٓ
तो आप राज़ी हो जाऐंगे

Walasawfa yu'teeka rabbuka fatarda

और शीघ्र ही तुम्हारा रब तुम्हें प्रदान करेगा कि तुम प्रसन्न हो जाओगे

Tafseer (तफ़सीर )
أَلَمْ
क्या नहीं
يَجِدْكَ
उसने पाया आपको
يَتِيمًا
यतीम
فَـَٔاوَىٰ
फिर उसने ठिकान फ़राहम किया

Alam yajidka yateeman faawa

क्या ऐसा नहीं कि उसने तुम्हें अनाथ पाया तो ठिकाना दिया?

Tafseer (तफ़सीर )
وَوَجَدَكَ
और उसने पाया आपको
ضَآلًّا
राह भूला
فَهَدَىٰ
तो उसने रहनुमाई की

Wawajadaka dallan fahada

और तुम्हें मार्ग से अपरिचित पाया तो मार्ग दिखाया?

Tafseer (तफ़सीर )
وَوَجَدَكَ
और उसने पाया आपको
عَآئِلًا
तंग दस्त
فَأَغْنَىٰ
तो उसने ग़नी कर दिया

Wawajadaka 'ailan faaghna

और तुम्हें निर्धन पाया तो समृद्ध कर दिया?

Tafseer (तफ़सीर )
فَأَمَّا
तो रहा
ٱلْيَتِيمَ
यतीम
فَلَا
पस ना
تَقْهَرْ
आप सख़्ती कीजिए(उस पर)

Faamma alyateema fala taqhar

अतः जो अनाथ हो उसे मत दबाना,

Tafseer (तफ़सीर )
وَأَمَّا
और रहा
ٱلسَّآئِلَ
सवाली
فَلَا
पस ना
تَنْهَرْ
आप झिड़कये (उसे)

Waamma alssaila fala tanhar

और जो माँगता हो उसे न झिझकना,

Tafseer (तफ़सीर )
कुरान की जानकारी :
अद-दुहा
القرآن الكريم:الضحى
आयत सजदा (سجدة):-
सूरा (latin):Ad-Duha
सूरा:93
कुल आयत:11
कुल शब्द:40
कुल वर्ण:172
रुकु:1
वर्गीकरण:मक्कन सूरा
Revelation Order:11
से शुरू आयत:6079