Skip to main content
bismillah
سَأَلَ
सवाल किया
سَآئِلٌۢ
सवाल करने वाले ने
بِعَذَابٍ
उस अज़ाब का
وَاقِعٍ
जो वाक़ेअ होने वाला है

Saala sailun bi'athabin waqi'in

एक माँगनेवाले ने घटित होनेवाली यातना माँगी,

Tafseer (तफ़सीर )
لِّلْكَٰفِرِينَ
काफ़िरों के लिए
لَيْسَ
नहीं है
لَهُۥ
उसे
دَافِعٌ
कोई दफ़ा करने वाला

Lilkafireena laysa lahu dafi'un

जो इनकार करनेवालो के लिए होगी, उसे कोई टालनेवाला नहीं,

Tafseer (तफ़सीर )
مِّنَ
अल्लाह की तरफ़ से
ٱللَّهِ
अल्लाह की तरफ़ से
ذِى
जो उरूज वाला है
ٱلْمَعَارِجِ
जो उरूज वाला है

Mina Allahi thee alma'ariji

वह अल्लाह की ओर से होगी, जो चढ़ाव के सोपानों का स्वामी है

Tafseer (तफ़सीर )
تَعْرُجُ
चढ़ते हैं
ٱلْمَلَٰٓئِكَةُ
फ़रिश्ते
وَٱلرُّوحُ
और रूह
إِلَيْهِ
तरफ़ उसके
فِى
एक दिन में
يَوْمٍ
एक दिन में
كَانَ
है
مِقْدَارُهُۥ
मिक़दार जिसकी
خَمْسِينَ
पचास
أَلْفَ
हज़ार
سَنَةٍ
साल

Ta'ruju almalaikatu waalrroohu ilayhi fee yawmin kana miqdaruhu khamseena alfa sanatin

फ़रिश्ते और रूह (जिबरील) उसकी ओर चढ़ते है, उस दिन में जिसकी अवधि पचास हज़ार वर्ष है

Tafseer (तफ़सीर )
فَٱصْبِرْ
पस सब्र कीजिए
صَبْرًا
सब्र
جَمِيلًا
जमील/ ख़ूबसूरत

Faisbir sabran jameelan

अतः धैर्य से काम लो, उत्तम धैर्य

Tafseer (तफ़सीर )
إِنَّهُمْ
बेशक वो
يَرَوْنَهُۥ
वो देखते हैं उसे
بَعِيدًا
बहुत दूर

Innahum yarawnahu ba'eedan

वे उसे बहुत दूर देख रहे है,

Tafseer (तफ़सीर )
وَنَرَىٰهُ
और हम देखते हैं उसे
قَرِيبًا
बहुत क़रीब

Wanarahu qareeban

किन्तु हम उसे निकट देख रहे है

Tafseer (तफ़सीर )
يَوْمَ
जिस दिन
تَكُونُ
होगा
ٱلسَّمَآءُ
आसमान
كَٱلْمُهْلِ
तेल की तलछट की तरह

Yawma takoonu alssamao kaalmuhli

जिस दिन आकाश तेल की तलछट जैसा काला हो जाएगा,

Tafseer (तफ़सीर )
وَتَكُونُ
और होंगे
ٱلْجِبَالُ
पहाड़
كَٱلْعِهْنِ
धुनकी हुई रूई की तरह

Watakoonu aljibalu kaal'ihni

और पर्वत रंग-बिरंगे ऊन के सदृश हो जाएँगे

Tafseer (तफ़सीर )
وَلَا
और ना
يَسْـَٔلُ
पूछेगा
حَمِيمٌ
कोई गहरा दोस्त
حَمِيمًا
किसी गहरे दोस्त को

Wala yasalu hameemun hameeman

कोई मित्र किसी मित्र को न पूछेगा,

Tafseer (तफ़सीर )
कुरान की जानकारी :
अल-मारिज
القرآن الكريم:المعارج
आयत सजदा (سجدة):-
सूरा (latin):Al-Ma'arij
सूरा:70
कुल आयत:44
कुल शब्द:224
कुल वर्ण:920
रुकु:2
वर्गीकरण:मक्कन सूरा
Revelation Order:79
से शुरू आयत:5375