Skip to main content
bismillah
وَيْلٌ
हलाकतहै
لِّلْمُطَفِّفِينَ
नाप-तोल में कमी करने वालों के लिए

Waylun lilmutaffifeena

तबाही है घटानेवालों के लिए,

Tafseer (तफ़सीर )
ٱلَّذِينَ
वो लोग
إِذَا
जब
ٱكْتَالُوا۟
वो नाप कर लेते हैं
عَلَى
लोगों से
ٱلنَّاسِ
लोगों से
يَسْتَوْفُونَ
वो पूरा-पूरा लेते हैं

Allatheena itha iktaloo 'ala alnnasi yastawfoona

जो नापकर लोगों पर नज़र जमाए हुए लेते हैं तो पूरा-पूरा लेते हैं,

Tafseer (तफ़सीर )
وَإِذَا
और जब
كَالُوهُمْ
वो नाप कर देते हैं उन्हें
أَو
या
وَّزَنُوهُمْ
वो तोल कर देते हैं उन्हें
يُخْسِرُونَ
वो कम देते हैं

Waitha kaloohum aw wazanoohum yukhsiroona

किन्तु जब उन्हें नापकर या तौलकर देते हैं तो घटाकर देते हैं

Tafseer (तफ़सीर )
أَلَا
क्या नहीं
يَظُنُّ
यक़ीन रखते
أُو۟لَٰٓئِكَ
ये लोग
أَنَّهُم
बेशक वो
مَّبْعُوثُونَ
उठाए जाने वाले हैं

Ala yathunnu olaika annahum mab'oothoona

क्या वे समझते नहीं कि उन्हें (जीवित होकर) उठना है,

Tafseer (तफ़सीर )
لِيَوْمٍ
एक बड़े दिन के लिए
عَظِيمٍ
एक बड़े दिन के लिए

Liyawmin 'atheemin

एक भारी दिन के लिए,

Tafseer (तफ़सीर )
يَوْمَ
जिस दिन
يَقُومُ
खड़े होंगे
ٱلنَّاسُ
लोग
لِرَبِّ
रब के लिए
ٱلْعَٰلَمِينَ
तमाम जहानों के

Yawma yaqoomu alnnasu lirabbi al'alameena

जिस दिन लोग सारे संसार के रब के सामने खड़े होंगे?

Tafseer (तफ़सीर )
كَلَّآ
हरगिज़ नहीं
إِنَّ
बेशक
كِتَٰبَ
किताब(आमाल नामा)
ٱلْفُجَّارِ
बदकारों की
لَفِى
यक़ीनन सिज्जीन में है
سِجِّينٍ
यक़ीनन सिज्जीन में है

Kalla inna kitaba alfujjari lafee sijjeenin

कुछ नहीं, निश्चय ही दुराचारियों का काग़ज 'सिज्जीन' में है

Tafseer (तफ़सीर )
وَمَآ
और क्या चीज़
أَدْرَىٰكَ
बताए आपको
مَا
क्या है
سِجِّينٌ
सिज्जीन

Wama adraka ma sijjeenun

तुम्हें क्या मालूम कि 'सिज्जीन' क्या हैं?

Tafseer (तफ़सीर )
كِتَٰبٌ
एक किताब है
مَّرْقُومٌ
लिखी हुई

Kitabun marqoomun

मुहर लगा हुआ काग़ज

Tafseer (तफ़सीर )
وَيْلٌ
हलाकत है
يَوْمَئِذٍ
उस दिन
لِّلْمُكَذِّبِينَ
झुठलाने वालों के लिए

Waylun yawmaithin lilmukaththibeena

तबाही है उस दिन झुठलाने-वालों की,

Tafseer (तफ़सीर )
कुरान की जानकारी :
अल-मुताफ्फिन
القرآن الكريم:المطففين
आयत सजदा (سجدة):-
सूरा (latin):Al-Tatfif
सूरा:83
कुल आयत:36
कुल शब्द:169
कुल वर्ण:730
रुकु:1
वर्गीकरण:मक्कन सूरा
Revelation Order:86
से शुरू आयत:5848