Skip to main content
bismillah
وَٱلْعَٰدِيَٰتِ
क़सम है दौड़ने वालों की
ضَبْحًا
हाँपते हुए

Waal'adiyati dabhan

साक्षी है जो हाँफते-फुँकार मारते हुए दौड़ते है,

Tafseer (तफ़सीर )
فَٱلْمُورِيَٰتِ
फिर चिंगारी निकालने वालों की
قَدْحًا
सुम मार कर

Faalmooriyati qadhan

फिर ठोकरों से चिनगारियाँ निकालते है,

Tafseer (तफ़सीर )
فَٱلْمُغِيرَٰتِ
फिर हमला करने वालों की
صُبْحًا
सुबह सवेरे

Faalmugheerati subhan

फिर सुबह सवेरे धावा मारते होते है,

Tafseer (तफ़सीर )
فَأَثَرْنَ
फिर वो उड़ाते हैं
بِهِۦ
साथ उसके
نَقْعًا
ग़ुबार को

Faatharna bihi naq'an

उसमें उठाया उन्होंने गर्द-गुबार

Tafseer (तफ़सीर )
فَوَسَطْنَ
फिर वो दर्मियान मे घुस जाते हैं
بِهِۦ
साथ उसके
جَمْعًا
जमाअत में

Fawasatna bihi jam'an

और इसी हाल में वे दल में जा घुसे

Tafseer (तफ़सीर )
إِنَّ
यक़ीनन
ٱلْإِنسَٰنَ
इन्सान
لِرَبِّهِۦ
अपने रब का
لَكَنُودٌ
यक़ीनन बड़ा नाशुक्रा है

Inna alinsana lirabbihi lakanoodun

निस्संदेह मनुष्य अपने रब का बड़ा अकृतज्ञ हैं,

Tafseer (तफ़सीर )
وَإِنَّهُۥ
और बेशक वो
عَلَىٰ
ऊपर उसके
ذَٰلِكَ
ऊपर उसके
لَشَهِيدٌ
अलबत्ता (ख़ुद)गवाह है

Wainnahu 'ala thalika lashaheedun

और निश्चय ही वह स्वयं इसपर गवाह है!

Tafseer (तफ़सीर )
وَإِنَّهُۥ
और बेशक वो
لِحُبِّ
मुहब्बत में
ٱلْخَيْرِ
माल की
لَشَدِيدٌ
यक़ीनन शदीद है

Wainnahu lihubbi alkhayri lashadeedun

और निश्चय ही वह धन के मोह में बड़ा दृढ़ है

Tafseer (तफ़सीर )
أَفَلَا
क्या भला नहीं
يَعْلَمُ
वो जानता
إِذَا
जब
بُعْثِرَ
निकाल लिया जाएगा
مَا
जो
فِى
क़ब्रों में है
ٱلْقُبُورِ
क़ब्रों में है

Afala ya'lamu itha bu'thira ma fee alquboori

तो क्या वह जानता नहीं जब उगवला लिया जाएगा तो क़ब्रों में है

Tafseer (तफ़सीर )
وَحُصِّلَ
और हासिल कर लिया जाएगा
مَا
जो
فِى
सीनों में है
ٱلصُّدُورِ
सीनों में है

Wahussila ma fee alssudoori

और स्पष्ट अनावृत्त कर दिया जाएगा तो कुछ सीनों में है

Tafseer (तफ़सीर )
कुरान की जानकारी :
अल-आदियात
القرآن الكريم:العاديات
आयत सजदा (سجدة):-
सूरा (latin):Al-'Adiyat
सूरा:100
कुल आयत:11
कुल शब्द:40
कुल वर्ण:163
रुकु:1
वर्गीकरण:मक्कन सूरा
Revelation Order:14
से शुरू आयत:6146