Skip to main content
bismillah
سَبَّحَ
तस्बीह की है
لِلَّهِ
अल्लाह के लिए
مَا
उस चीज़ ने जो
فِى
आसमानों में है
ٱلسَّمَٰوَٰتِ
आसमानों में है
وَمَا
और जो
فِى
ज़मीन में है
ٱلْأَرْضِۖ
ज़मीन में है
وَهُوَ
और वो
ٱلْعَزِيزُ
बहुत ज़बरदस्त है
ٱلْحَكِيمُ
ख़ूब हिकमत वाला है

Sabbaha lillahi ma fee alssamawati wama fee alardi wahuwa al'azeezu alhakeemu

अल्लाह की तसबीह की हर उस चीज़ ने जो आकाशों और धरती में है। वही प्रभुत्वशाली, तत्वदर्शी है

Tafseer (तफ़सीर )
يَٰٓأَيُّهَا
ऐ लोगो जो
ٱلَّذِينَ
ऐ लोगो जो
ءَامَنُوا۟
ईमान लाए हो
لِمَ
क्यों
تَقُولُونَ
तुम कहते हो
مَا
वो जो
لَا
नहीं तुम करते
تَفْعَلُونَ
नहीं तुम करते

Ya ayyuha allatheena amanoo lima taqooloona ma la taf'aloona

ऐ ईमान लानेवालो! तुम वह बात क्यों कहते हो जो करते नहीं?

Tafseer (तफ़सीर )
كَبُرَ
बड़ी है
مَقْتًا
नाराज़गी
عِندَ
अल्लाह के नज़दीक
ٱللَّهِ
अल्लाह के नज़दीक
أَن
कि
تَقُولُوا۟
तुम कहो
مَا
वो जो
لَا
नहीं तुम करते
تَفْعَلُونَ
नहीं तुम करते

Kabura maqtan 'inda Allahi an taqooloo ma la taf'aloona

अल्लाह के यहाँ यह अत्यन्त अप्रिय बात है कि तुम वह बात कहो, जो करो नहीं

Tafseer (तफ़सीर )
إِنَّ
बेशक
ٱللَّهَ
अल्लाह
يُحِبُّ
वो मुहब्बत रखता है
ٱلَّذِينَ
उन लोगों से जो
يُقَٰتِلُونَ
जंग करते हैं
فِى
उसके रास्ते में
سَبِيلِهِۦ
उसके रास्ते में
صَفًّا
सफ़ बना कर
كَأَنَّهُم
गोया कि वो
بُنْيَٰنٌ
दीवार हैं
مَّرْصُوصٌ
सीसा पिलाई हुई

Inna Allaha yuhibbu allatheena yuqatiloona fee sabeelihi saffan kaannahum bunyanun marsoosun

अल्लाह तो उन लोगों से प्रेम रखता है जो उसके मार्ग में पंक्तिबद्ध होकर लड़ते है मानो वे सीसा पिलाई हुए दीवार है

Tafseer (तफ़सीर )
وَإِذْ
और जब
قَالَ
कहा
مُوسَىٰ
मूसा ने
لِقَوْمِهِۦ
अपनी क़ौम से
يَٰقَوْمِ
ऐ मेरी क़ौम
لِمَ
क्यों
تُؤْذُونَنِى
तुम अज़ियत देते हो मुझे
وَقَد
हालाँकि तहक़ीक़
تَّعْلَمُونَ
तुम जानते हो
أَنِّى
बेशक मैं
رَسُولُ
रसूल हूँ
ٱللَّهِ
अल्लाह का
إِلَيْكُمْۖ
तुम्हारी तरफ़
فَلَمَّا
फिर जब
زَاغُوٓا۟
वो टेढ़े हुए
أَزَاغَ
टेढ़ा कर दिया
ٱللَّهُ
अल्लाह ने
قُلُوبَهُمْۚ
उनके दिलों को
وَٱللَّهُ
और अल्लाह
لَا
नहीं वो हिदायत देता
يَهْدِى
नहीं वो हिदायत देता
ٱلْقَوْمَ
उन लोगों को
ٱلْفَٰسِقِينَ
जो फ़ासिक़ हैं

Waith qala moosa liqawmihi ya qawmi lima tuthoonanee waqad ta'lamoona annee rasoolu Allahi ilaykum falamma zaghoo azagha Allahu quloobahum waAllahu la yahdee alqawma alfasiqeena

और याद करो जब मूसा ने अपनी क़ौम के लोगों से कहा, 'ऐ मेरी क़ौम के लोगों! तुम मुझे क्यो दुख देते हो, हालाँकि तुम जानते हो कि मैं तुम्हारी ओर भेजा हुआ अल्लाह का रसूल हूँ?' फिर जब उन्होंने टेढ़ अपनाई तो अल्लाह ने भी उनके दिल टेढ़ कर दिए। अल्लाह अवज्ञाकारियों को सीधा मार्ग नहीं दिखाता

Tafseer (तफ़सीर )
وَإِذْ
और जब
قَالَ
कहा
عِيسَى
ईसा
ٱبْنُ
इब्ने मरियम ने
مَرْيَمَ
इब्ने मरियम ने
يَٰبَنِىٓ
ऐ बनी इस्राईल
إِسْرَٰٓءِيلَ
ऐ बनी इस्राईल
إِنِّى
बेशक मैं
رَسُولُ
रसूल हूँ
ٱللَّهِ
अल्लाह का
إِلَيْكُم
तुम्हारी तरफ़
مُّصَدِّقًا
तस्दीक़ करने वाला हूँ
لِّمَا
उसकी जो
بَيْنَ
मुझसे पहले है
يَدَىَّ
मुझसे पहले है
مِنَ
तौरात में से
ٱلتَّوْرَىٰةِ
तौरात में से
وَمُبَشِّرًۢا
और ख़ुशख़बरी देने वाला हूँ
بِرَسُولٍ
एक रसूल की
يَأْتِى
जो आएगा
مِنۢ
मेरे बाद
بَعْدِى
मेरे बाद
ٱسْمُهُۥٓ
नाम उसका
أَحْمَدُۖ
अहमद(होगा)
فَلَمَّا
फिर जब
جَآءَهُم
वो आया उनके पास
بِٱلْبَيِّنَٰتِ
साथ वाज़ेह दलाइल के
قَالُوا۟
उन्होंने कहा
هَٰذَا
ये
سِحْرٌ
जादू है
مُّبِينٌ
खुल्लम-खुल्ला

Waith qala 'eesa ibnu maryama ya banee israeela innee rasoolu Allahi ilaykum musaddiqan lima bayna yadayya mina alttawrati wamubashshiran birasoolin yatee min ba'dee ismuhu ahmadu falamma jaahum bialbayyinati qaloo hatha sihrun mubeenun

और याद करो जबकि मरयम के बेटे ईसा ने कहा, 'ऐ इसराईल की संतान! मैं तुम्हारी ओर भेजा हुआ अल्लाह का रसूल हूँ। मैं तौरात की (उस भविष्यवाणी की) पुष्टि करता हूँ जो मुझसे पहले से विद्यमान है और एक रसूल की शुभ सूचना देता हूँ जो मेरे बाद आएगा, उसका नाम अहमद होगा।' किन्तु वह जब उनके पास स्पट्जो प्रमाणों के साथ आया तो उन्होंने कहा, 'यह तो जादू है।'

Tafseer (तफ़सीर )
وَمَنْ
और कौन
أَظْلَمُ
ज़्यादा ज़ालिम है
مِمَّنِ
उससे जो
ٱفْتَرَىٰ
गढ़ ले
عَلَى
अल्लाह पर
ٱللَّهِ
अल्लाह पर
ٱلْكَذِبَ
झूठ
وَهُوَ
हालाँकि वो
يُدْعَىٰٓ
वो बुलाया जाता हो
إِلَى
तरफ़ इस्लाम के
ٱلْإِسْلَٰمِۚ
तरफ़ इस्लाम के
وَٱللَّهُ
और अल्लाह
لَا
नहीं वो हिदायत देता
يَهْدِى
नहीं वो हिदायत देता
ٱلْقَوْمَ
उन लोगों को
ٱلظَّٰلِمِينَ
जो ज़ालिम हैं

Waman athlamu mimmani iftara 'ala Allahi alkathiba wahuwa yud'a ila alislami waAllahu la yahdee alqawma alththalimeena

अब उस व्यक्ति से बढ़कर ज़ालिम कौन होगा, जो अल्लाह पर थोपकर झूठ घड़े जबकि इस्लाम (अल्लाह के आगे समर्पण करने) का ओर बुलाया जा रहा हो? अल्लाह ज़ालिम लोगों को सीधा मार्ग नहीं दिखाया करता

Tafseer (तफ़सीर )
يُرِيدُونَ
वो चाहते हैं
لِيُطْفِـُٔوا۟
कि वो बुझा दें
نُورَ
नूर
ٱللَّهِ
अल्लाह का
بِأَفْوَٰهِهِمْ
अपने मूँहों से
وَٱللَّهُ
और अल्लाह
مُتِمُّ
पूरा करने वाला है
نُورِهِۦ
अपने नूर को
وَلَوْ
और अगरचे
كَرِهَ
नापसंद करें
ٱلْكَٰفِرُونَ
काफ़िर

Yureedoona liyutfioo noora Allahi biafwahihim waAllahu mutimmu noorihi walaw kariha alkafiroona

वे चाहते है कि अल्लाह के प्रकाश को अपने मुँह की फूँक से बुझा दे, किन्तु अल्लाह अपने प्रकाश को पूर्ण करके ही रहेगा, यद्यपि इनकार करनेवालों को अप्रिय ही लगे

Tafseer (तफ़सीर )
هُوَ
वो ही है
ٱلَّذِىٓ
जिसने
أَرْسَلَ
भेजा
رَسُولَهُۥ
अपने रसूल को
بِٱلْهُدَىٰ
साथ हिदायत के
وَدِينِ
और दीने
ٱلْحَقِّ
हक़ के
لِيُظْهِرَهُۥ
ताकि वो ग़ालिब कर दे उसे
عَلَى
ऊपर दीनों के
ٱلدِّينِ
ऊपर दीनों के
كُلِّهِۦ
सब के सब
وَلَوْ
और अगरचे
كَرِهَ
नापसंद करें
ٱلْمُشْرِكُونَ
मुशरिक

Huwa allathee arsala rasoolahu bialhuda wadeeni alhaqqi liyuthhirahu 'ala alddeeni kullihi walaw kariha almushrikoona

वही है जिसने अपने रसूल को मार्गदर्शन और सत्यधर्म के साथ भेजा, ताकि उसे पूरे के पूरे धर्म पर प्रभुत्व प्रदान कर दे, यद्यपि बहुदेवादियों को अप्रिय ही लगे

Tafseer (तफ़सीर )
يَٰٓأَيُّهَا
ऐ लोगो जो
ٱلَّذِينَ
ऐ लोगो जो
ءَامَنُوا۟
ईमान लाए हो
هَلْ
क्या
أَدُلُّكُمْ
मैं रहनुमाई करूँ तुम्हारी
عَلَىٰ
एक तिजारत पर
تِجَٰرَةٍ
एक तिजारत पर
تُنجِيكُم
जो निजात दे तुम्हें
مِّنْ
दर्दनाक अज़ाब से
عَذَابٍ
दर्दनाक अज़ाब से
أَلِيمٍ
दर्दनाक अज़ाब से

Ya ayyuha allatheena amanoo hal adullukum 'ala tijaratin tunjeekum min 'athabin aleemin

ऐ ईमान लानेवालो! क्या मैं तुम्हें एक ऐसा व्यापार बताऊँ जो तुम्हें दुखद यातना से बचा ले?

Tafseer (तफ़सीर )
कुरान की जानकारी :
अस-सफ्फ
القرآن الكريم:الصف
आयत सजदा (سجدة):-
सूरा (latin):As-Saff
सूरा:61
कुल आयत:14
कुल शब्द:221
कुल वर्ण:900
रुकु:2
वर्गीकरण:मदीनन सूरा
Revelation Order:109
से शुरू आयत:5163