Skip to main content
bismillah
نٓۚ
ن
وَٱلْقَلَمِ
क़सम है क़लम की
وَمَا
और उसकी जो
يَسْطُرُونَ
वो लिखते हैं

Noon waalqalami wama yasturoona

नून॰। गवाह है क़लम और वह चीज़ जो वे लिखते है,

Tafseer (तफ़सीर )
مَآ
नहीं हैं
أَنتَ
आप
بِنِعْمَةِ
नेअमत से
رَبِّكَ
अपने रब की
بِمَجْنُونٍ
कोई मजनून

Ma anta bini'mati rabbika bimajnoonin

तुम अपने रब की अनुकम्पा से कोई दीवाने नहीं हो

Tafseer (तफ़सीर )
وَإِنَّ
और बेशक
لَكَ
आपके लिए
لَأَجْرًا
यक़ीनन अजर है
غَيْرَ
ना
مَمْنُونٍ
ख़त्म होने वाला

Wainna laka laajran ghayra mamnoonin

निश्चय ही तुम्हारे लिए ऐसा प्रतिदान है जिसका क्रम कभी टूटनेवाला नहीं

Tafseer (तफ़सीर )
وَإِنَّكَ
और बेशक आप
لَعَلَىٰ
यक़ीनन बुलन्द अख़लाक़ पर हैं
خُلُقٍ
यक़ीनन बुलन्द अख़लाक़ पर हैं
عَظِيمٍ
यक़ीनन बुलन्द अख़लाक़ पर हैं

Wainnaka la'ala khuluqin 'atheemin

निस्संदेह तुम एक महान नैतिकता के शिखर पर हो

Tafseer (तफ़सीर )
فَسَتُبْصِرُ
पस अनक़रीब आप देखेंगे
وَيُبْصِرُونَ
और वो भी देखेंगे

Fasatubsiru wayubsiroona

अतः शीघ्र ही तुम भी देख लोगे और वे भी देख लेंगे

Tafseer (तफ़सीर )
بِأَييِّكُمُ
कौन तुम में से
ٱلْمَفْتُونُ
फ़ितने में डाला हुआ है

Biayyikumu almaftoonu

कि तुममें से कौन विभ्रमित है

Tafseer (तफ़सीर )
إِنَّ
बेशक
رَبَّكَ
रब आपका
هُوَ
वो
أَعْلَمُ
ज़्यादा जानता है
بِمَن
उसे जो
ضَلَّ
भटक गया
عَن
उसके रास्ते से
سَبِيلِهِۦ
उसके रास्ते से
وَهُوَ
और वो
أَعْلَمُ
ज़्यादा जानता है
بِٱلْمُهْتَدِينَ
हिदायत पाने वालों को

Inna rabbaka huwa a'lamu biman dalla 'an sabeelihi wahuwa a'lamu bialmuhtadeena

निस्संदेह तुम्हारा रब उसे भली-भाँति जानता है जो उसके मार्ग से भटक गया है, और वही उन लोगों को भी जानता है जो सीधे मार्ग पर हैं

Tafseer (तफ़सीर )
فَلَا
पस ना
تُطِعِ
आप इताअत कीजिए
ٱلْمُكَذِّبِينَ
झुठलाने वालों की

Fala tuti'i almukaththibeena

अतः तुम झुठलानेवालों को कहना न मानना

Tafseer (तफ़सीर )
وَدُّوا۟
वो चाहते हैं
لَوْ
काश
تُدْهِنُ
आप ढीले पड़ें
فَيُدْهِنُونَ
तो वो भी ढीले पड़जाऐं

Waddoo law tudhinu fayudhinoona

वे चाहते है कि तुम ढीले पड़ो, इस कारण वे चिकनी-चुपड़ी बातें करते है

Tafseer (तफ़सीर )
وَلَا
और ना
تُطِعْ
आप इताअत कीजिए
كُلَّ
हर
حَلَّافٍ
बहुत क़समें खाने वाले
مَّهِينٍ
निहायत हक़ीर की

Wala tuti' kulla hallafin maheenin

तुम किसी भी ऐसे व्यक्ति की बात न मानना जो बहुत क़समें खानेवाला, हीन है,

Tafseer (तफ़सीर )
कुरान की जानकारी :
अल-कलाम
القرآن الكريم:القلم
आयत सजदा (سجدة):-
सूरा (latin):Al-Qalam
सूरा:68
कुल आयत:52
कुल शब्द:300
कुल वर्ण:1256
रुकु:2
वर्गीकरण:मक्कन सूरा
Revelation Order:2
से शुरू आयत:5271