Skip to main content
bismillah
حمٓ
ح م

Hameem

हा॰ मीम॰

Tafseer (तफ़सीर )
تَنزِيلُ
नाज़िल करना है
ٱلْكِتَٰبِ
किताब का
مِنَ
अल्लाह की तरफ़ से
ٱللَّهِ
अल्लाह की तरफ़ से
ٱلْعَزِيزِ
जो बहुत ज़बरदस्त है
ٱلْعَلِيمِ
ख़ूब इल्म वाला है

Tanzeelu alkitabi mina Allahi al'azeezi al'aleemi

इस किताब का अवतरण प्रभुत्वशाली, सर्वज्ञ अल्लाह की ओर से है,

Tafseer (तफ़सीर )
غَافِرِ
बख़्शने वाला है
ٱلذَّنۢبِ
गुनाह का
وَقَابِلِ
और क़ुबूल करने वाल है
ٱلتَّوْبِ
तौबा का
شَدِيدِ
सख़्त
ٱلْعِقَابِ
सज़ा देने वाला
ذِى
बड़े फ़ज़ल वाला है
ٱلطَّوْلِۖ
बड़े फ़ज़ल वाला है
لَآ
नहीं
إِلَٰهَ
कोई इलाह (बरहक़)
إِلَّا
मगर
هُوَۖ
वो ही
إِلَيْهِ
तरफ़ उसी के
ٱلْمَصِيرُ
लौटना है

Ghafiri alththanbi waqabili alttawbi shadeedi al'iqabi thee alttawli la ilaha illa huwa ilayhi almaseeru

जो गुनाह क्षमा करनेवाला, तौबा क़बूल करनेवाला, कठोर दंड देनेवाला, शक्तिमान है। उसके अतिरिक्त कोई पूज्य-प्रभु नहीं। अन्ततः उसी की ओर जाना है

Tafseer (तफ़सीर )
مَا
नहीं
يُجَٰدِلُ
झगड़ा करते
فِىٓ
आयात में
ءَايَٰتِ
आयात में
ٱللَّهِ
अल्लाह की
إِلَّا
मगर
ٱلَّذِينَ
वो जिन्होंने
كَفَرُوا۟
कुफ़्र किया
فَلَا
तो ना
يَغْرُرْكَ
धोखे में डाले आपको
تَقَلُّبُهُمْ
चलना फिरना उनका
فِى
शहरों में
ٱلْبِلَٰدِ
शहरों में

Ma yujadilu fee ayati Allahi illa allatheena kafaroo fala yaghrurka taqallubuhum fee albiladi

अल्लाह की आयतों के बारे में बस वही लोग झगड़ते हैं जिन्होंने इनकार किया, तो नगरों में उसकी चलत-फिरत तुम्हें धोखे में न डाले

Tafseer (तफ़सीर )
كَذَّبَتْ
झुठलाया
قَبْلَهُمْ
उनसे पहले
قَوْمُ
क़ौमे
نُوحٍ
नूह ने
وَٱلْأَحْزَابُ
और गिरोहों ने
مِنۢ
बाद उनके
بَعْدِهِمْۖ
बाद उनके
وَهَمَّتْ
और इरादा किया
كُلُّ
हर
أُمَّةٍۭ
उम्मत ने
بِرَسُولِهِمْ
अपने रसूल का
لِيَأْخُذُوهُۖ
ताकि वो पकड़ें उसे
وَجَٰدَلُوا۟
और उन्होंने झगड़ा किया
بِٱلْبَٰطِلِ
साथ बातिल के
لِيُدْحِضُوا۟
ताकि वो ख़त्म (ज़ाइल)कर दें
بِهِ
साथ उसके
ٱلْحَقَّ
हक़ को
فَأَخَذْتُهُمْۖ
तो पकड़ लिया मैं ने उन्हें
فَكَيْفَ
तो कैसी
كَانَ
थी
عِقَابِ
सज़ा मेरी

Kaththabat qablahum qawmu noohin waalahzabu min ba'dihim wahammat kullu ommatin birasoolihim liyakhuthoohu wajadaloo bialbatili liyudhidoo bihi alhaqqa faakhathtuhum fakayfa kana 'iqabi

उनसे पहले नूह की क़ौम ने और उनके पश्चात दूसरों गिरोहों ने भी झुठलाया और हर समुदाय के लोगों ने अपने रसूलों के बारे में इरादा किया कि उन्हें पकड़ लें और वे सत्य का सहारा लेकर झगडे, ताकि उसके द्वारा सत्य को उखाड़ दें। अन्ततः मैंने उन्हें पकड़ लिया। तौ कैसी रही मेरी सज़ा!

Tafseer (तफ़सीर )
وَكَذَٰلِكَ
और इसी तरह
حَقَّتْ
साबित हो गई
كَلِمَتُ
बात
رَبِّكَ
आपके रब की
عَلَى
ऊपर उनके जिन्होंने
ٱلَّذِينَ
ऊपर उनके जिन्होंने
كَفَرُوٓا۟
कुफ़्र किया
أَنَّهُمْ
कि यक़ीनन वो
أَصْحَٰبُ
साथी हैं
ٱلنَّارِ
आग के

Wakathalika haqqat kalimatu rabbika 'ala allatheena kafaroo annahum ashabu alnnari

और (जैसे दुनिया में सज़ा मिली) उसी प्रकार तेरे रब की यह बात भी उन लोगों पर सत्यापित हो गई है, जिन्होंने इनकार किया कि वे आग में पड़नेवाले है;

Tafseer (तफ़सीर )
ٱلَّذِينَ
वो (फ़रिश्ते )जो
يَحْمِلُونَ
उठाए हुए हैं
ٱلْعَرْشَ
अर्श को
وَمَنْ
और जो
حَوْلَهُۥ
उसके इर्द-गिर्द हैं
يُسَبِّحُونَ
वो तस्बीह कर रहे हैं
بِحَمْدِ
साथ तारीफ़ के
رَبِّهِمْ
अपने रब की
وَيُؤْمِنُونَ
और वो ईमान रखते हैं
بِهِۦ
उस पर
وَيَسْتَغْفِرُونَ
और वो बख़्शिश माँगते हैं
لِلَّذِينَ
उनके लिए जो
ءَامَنُوا۟
ईमान लाए
رَبَّنَا
ऐ हमारे रब
وَسِعْتَ
घेर रखा है तू ने
كُلَّ
हर
شَىْءٍ
चीज़ को
رَّحْمَةً
रहमत
وَعِلْمًا
और इल्म से
فَٱغْفِرْ
पस बख़्श दे
لِلَّذِينَ
उनको जिन्होंने
تَابُوا۟
तौबा की
وَٱتَّبَعُوا۟
और उन्होंने पैरवी की
سَبِيلَكَ
तेरे रास्ते की
وَقِهِمْ
और बचा उन्हें
عَذَابَ
अज़ाब से
ٱلْجَحِيمِ
जहन्नम के

Allatheena yahmiloona al'arsha waman hawlahu yusabbihoona bihamdi rabbihim wayuminoona bihi wayastaghfiroona lillatheena amanoo rabbana wasi'ta kulla shayin rahmatan wa'ilman faighfir lillatheena taboo waittaba'oo sabeelaka waqihim 'athaba aljaheemi

जो सिंहासन को उठाए हुए है और जो उसके चतुर्दिक हैं, अपने रब का गुणगान करते है और उस पर ईमान रखते है और उन लोगों के लिए क्षमा की प्रार्थना करते है जो ईमान लाए कि 'ऐ हमारे रब! तू हर चीज़ को व्याप्त है। अतः जिन लोगों ने तौबा की और तेरे मार्ग का अनुसरण किया, उन्हें क्षमा कर दे और भड़कती हुई आग की यातना से बचा लें

Tafseer (तफ़सीर )
رَبَّنَا
ऐ हमारे रब
وَأَدْخِلْهُمْ
और दाख़िल कर उन्हें
جَنَّٰتِ
बाग़ात में
عَدْنٍ
हमेशगी के
ٱلَّتِى
वो जो
وَعَدتَّهُمْ
वादा किया था तू ने उनसे
وَمَن
और जो कोई
صَلَحَ
नेक हुए
مِنْ
उनके आबा ओ अजदाद में से
ءَابَآئِهِمْ
उनके आबा ओ अजदाद में से
وَأَزْوَٰجِهِمْ
और उनकी बीवियों
وَذُرِّيَّٰتِهِمْۚ
और उनकी औलादों में से
إِنَّكَ
बेशक तू
أَنتَ
तू ही है
ٱلْعَزِيزُ
बहुत ज़बरदस्त
ٱلْحَكِيمُ
ख़ूब हिकमत वाला

Rabbana waadkhilhum jannati 'adnin allatee wa'adtahum waman salaha min abaihim waazwajihim wathurriyyatihim innaka anta al'azeezu alhakeemu

ऐ हमारे रब! और उन्हें सदैव रहने के बागों में दाख़िल कर जिनका तूने उनसे वादा किया है और उनके बाप-दादा और उनकी पत्नि यों और उनकी सन्ततियों में से जो योग्य हुए उन्हें भी। निस्संदेह तू प्रभुत्वशाली, अत्यन्त तत्वदर्शी है

Tafseer (तफ़सीर )
وَقِهِمُ
और बचा उन्हें
ٱلسَّيِّـَٔاتِۚ
बुराइयों से
وَمَن
और जिसे
تَقِ
तू बचा लेगा
ٱلسَّيِّـَٔاتِ
बुराइयों से
يَوْمَئِذٍ
उस दिन
فَقَدْ
पस तहक़ीक़
رَحِمْتَهُۥۚ
रहम किया तू ने उस पर
وَذَٰلِكَ
और यही है
هُوَ
वो
ٱلْفَوْزُ
कामयाबी
ٱلْعَظِيمُ
बहुत बड़ी

Waqihimu alssayyiati waman taqi alssayyiati yawmaithin faqad rahimtahu wathalika huwa alfawzu al'atheemu

और उन्हें अनिष्टों से बचा। जिसे उस दिन तूने अनिष्टों से बचा लिया, तो निश्चय ही उसपर तूने दया की। और वही बड़ी सफलता है।'

Tafseer (तफ़सीर )
إِنَّ
बेशक
ٱلَّذِينَ
वो जिन्होंने
كَفَرُوا۟
कुफ़्र किया
يُنَادَوْنَ
वो पुकारे जाऐंगे
لَمَقْتُ
यक़ीनन नाराज़गी
ٱللَّهِ
अल्लाह की
أَكْبَرُ
ज़्यादा बड़ी है
مِن
तुम्हारी नाराज़गी से
مَّقْتِكُمْ
तुम्हारी नाराज़गी से
أَنفُسَكُمْ
अपने आप पर
إِذْ
जब
تُدْعَوْنَ
तुम बुलाए जाते थे
إِلَى
तरफ़ ईमान के
ٱلْإِيمَٰنِ
तरफ़ ईमान के
فَتَكْفُرُونَ
तो तुम इन्कार करते थे

Inna allatheena kafaroo yunadawna lamaqtu Allahi akbaru min maqtikum anfusakum ith tud'awna ila aleemani fatakfuroona

निश्चय ही जिन लोगों ने इनकार किया उन्हें पुकारकर कहा जाएगा कि 'अपने आपसे जो तुम्हें विद्वेष एवं क्रोध है, तुम्हारे प्रति अल्लाह का क्रोध एवं द्वेष उससे कहीं बढकर है कि जब तुम्हें ईमान की ओर बुलाया जाता था तो तुम इनकार करते थे।'

Tafseer (तफ़सीर )
कुरान की जानकारी :
अल-गाफिर
القرآن الكريم:غافر
आयत सजदा (سجدة):-
सूरा (latin):Al-Mu'min
सूरा:40
कुल आयत:85
कुल शब्द:1990
कुल वर्ण:4960
रुकु:9
वर्गीकरण:मक्कन सूरा
Revelation Order:60
से शुरू आयत:4133