Skip to main content
bismillah
الٓمٓرۚ
अलिफ़ लाम मीम रा
تِلْكَ
ये
ءَايَٰتُ
आयात हैं
ٱلْكِتَٰبِۗ
किताब की
وَٱلَّذِىٓ
और जो कुछ
أُنزِلَ
नाज़िल किया गया
إِلَيْكَ
तरफ़ आपके
مِن
आपके रब की तरफ़ से
رَّبِّكَ
आपके रब की तरफ़ से
ٱلْحَقُّ
हक़ है
وَلَٰكِنَّ
और लेकिन
أَكْثَرَ
अक्सर
ٱلنَّاسِ
लोग
لَا
नहीं वो ईमान लाते
يُؤْمِنُونَ
नहीं वो ईमान लाते

Aliflammeemra tilka ayatu alkitabi waallathee onzila ilayka min rabbika alhaqqu walakinna akthara alnnasi la yuminoona

अलिफ़॰ लाम॰ मीम॰ रा॰। ये किताब की आयतें है औऱ जो कुछ तुम्हारे रब की ओर से तुम्हारी ओर अवतरित हुआ है, वह सत्य है, किन्तु अधिकतर लोग मान नहीं रहे है

Tafseer (तफ़सीर )
ٱللَّهُ
अल्लाह
ٱلَّذِى
वो ही है जिसने
رَفَعَ
बुलन्द किया
ٱلسَّمَٰوَٰتِ
आसमानों को
بِغَيْرِ
बग़ैर
عَمَدٍ
सुतूनों के
تَرَوْنَهَاۖ
तुम देखते हो जिन्हें
ثُمَّ
फिर
ٱسْتَوَىٰ
वो बुलन्द हुआ
عَلَى
अर्श पर
ٱلْعَرْشِۖ
अर्श पर
وَسَخَّرَ
और उसने मुसख़्ख़र किया
ٱلشَّمْسَ
सूरज
وَٱلْقَمَرَۖ
और चाँद को
كُلٌّ
सब
يَجْرِى
चल रहे हैं
لِأَجَلٍ
एक वक़्त तक
مُّسَمًّىۚ
मुक़र्रर
يُدَبِّرُ
वो तदबीर करता है
ٱلْأَمْرَ
काम की
يُفَصِّلُ
वो खोल कर बयान करता है
ٱلْءَايَٰتِ
आयात को
لَعَلَّكُم
ताकि तुम
بِلِقَآءِ
मुलाक़ात का
رَبِّكُمْ
अपने रब की
تُوقِنُونَ
तुम यक़ीन करो

Allahu allathee rafa'a alssamawati bighayri 'amadin tarawnaha thumma istawa 'ala al'arshi wasakhkhara alshshamsa waalqamara kullun yajree liajalin musamman yudabbiru alamra yufassilu alayati la'allakum biliqai rabbikum tooqinoona

अल्लाह वह है जिसने आकाशों को बिना सहारे के ऊँचा बनाया जैसा कि तुम उन्हें देखते हो। फिर वह सिंहासन पर आसीन हुआ। उसने सूर्य और चन्द्रमा को काम पर लगाया। हरेक एक नियत समय तक के लिए चला जा रहा है। वह सारे काम का विधान कर रहा है; वह निशानियाँ खोल-खोलकर बयान करता है, ताकि तुम्हें अपने रब से मिलने का विश्वास हो

Tafseer (तफ़सीर )
وَهُوَ
और वो ही है
ٱلَّذِى
जिसने
مَدَّ
फैला दिया
ٱلْأَرْضَ
ज़मीन को
وَجَعَلَ
और बनाए
فِيهَا
उसमें
رَوَٰسِىَ
पहाड़
وَأَنْهَٰرًاۖ
और नहरें
وَمِن
और हर क़िस्म से
كُلِّ
और हर क़िस्म से
ٱلثَّمَرَٰتِ
फलों की
جَعَلَ
उसने बनाए
فِيهَا
उसमें
زَوْجَيْنِ
जोड़े
ٱثْنَيْنِۖ
दो दो
يُغْشِى
वो ढाँपता है
ٱلَّيْلَ
रात को
ٱلنَّهَارَۚ
दिन पर
إِنَّ
बेशक
فِى
उसमें
ذَٰلِكَ
उसमें
لَءَايَٰتٍ
अलबत्ता निशानियाँ हैं
لِّقَوْمٍ
उन लोगों के लिए
يَتَفَكَّرُونَ
जो ग़ौरो फ़िक्र करते हैं

Wahuwa allathee madda alarda waja'ala feeha rawasiya waanharan wamin kulli alththamarati ja'ala feeha zawjayni ithnayni yughshee allayla alnnahara inna fee thalika laayatin liqawmin yatafakkaroona

और वही है जिसने धरती को फैलाया और उसमें जमे हुए पर्वत और नदियाँ बनाई और हरेक पैदावार की दो-दो क़िस्में बनाई। वही रात से दिन को छिपा देता है। निश्चय ही इसमें उन लोगों के लिए निशानियाँ है जो सोच-विचार से काम लेते है

Tafseer (तफ़सीर )
وَفِى
और ज़मीन में
ٱلْأَرْضِ
और ज़मीन में
قِطَعٌ
टुकड़े हैं
مُّتَجَٰوِرَٰتٌ
बाहम मिले हुए
وَجَنَّٰتٌ
और बाग़ात हैं
مِّنْ
अंगूरों के
أَعْنَٰبٍ
अंगूरों के
وَزَرْعٌ
और खेतियाँ
وَنَخِيلٌ
और खजूर के दरख़्त
صِنْوَانٌ
जड़ से मिले हुए
وَغَيْرُ
और बग़ैर
صِنْوَانٍ
जड़ से मिले हुए
يُسْقَىٰ
वो पिलाए जाते हैं
بِمَآءٍ
पानी
وَٰحِدٍ
एक ही
وَنُفَضِّلُ
और हम फ़ज़ीलत देते है
بَعْضَهَا
उनके बाज़ को
عَلَىٰ
बाज़ पर
بَعْضٍ
बाज़ पर
فِى
फलों में
ٱلْأُكُلِۚ
फलों में
إِنَّ
यक़ीनन
فِى
उसमें
ذَٰلِكَ
उसमें
لَءَايَٰتٍ
अलबत्ता निशानियाँ हैं
لِّقَوْمٍ
उन लोगों के लिए
يَعْقِلُونَ
जो अक़्ल से काम लेते हैं

Wafee alardi qita'un mutajawiratun wajannatun min a'nabin wazar'un wanakheelun sinwanun waghayru sinwanin yusqa bimain wahidin wanufaddilu ba'daha 'ala ba'din fee alokuli inna fee thalika laayatin liqawmin ya'qiloona

और धरती में पास-पास भूभाग पाए जाते है जो परस्पर मिले हुए है, और अंगूरों के बाग़ है और खेतियाँ है औऱ खजूर के पेड़ है, इकहरे भी और दोहरे भी। सबको एक ही पानी से सिंचित करता है, फिर भी हम पैदावार और स्वाद में किसी को किसी के मुक़ाबले में बढ़ा देते है। निश्चय ही इसमें उन लोगों के लिए निशानियाँ हैं, जो बुद्धि से काम लेते है

Tafseer (तफ़सीर )
وَإِن
और अगर
تَعْجَبْ
तुम तआज्जुब करते हो
فَعَجَبٌ
तो क़ाबिले तआज्जुब है
قَوْلُهُمْ
बात उनकी
أَءِذَا
क्या जब
كُنَّا
हो जाऐंगे हम
تُرَٰبًا
मिट्टी
أَءِنَّا
क्या बेशक हम
لَفِى
अलबत्ता पैदाइश में होंगे
خَلْقٍ
अलबत्ता पैदाइश में होंगे
جَدِيدٍۗ
नई
أُو۟لَٰٓئِكَ
यही वो लोग हैं
ٱلَّذِينَ
जिन्होंने
كَفَرُوا۟
कुफ़्र किया
بِرَبِّهِمْۖ
अपने रब के साथ
وَأُو۟لَٰٓئِكَ
और यही लोग हैं
ٱلْأَغْلَٰلُ
तौक़ होंगे
فِىٓ
जिनकी गर्दनों में
أَعْنَاقِهِمْۖ
जिनकी गर्दनों में
وَأُو۟لَٰٓئِكَ
और यही लोग हैं
أَصْحَٰبُ
साथी
ٱلنَّارِۖ
आग के
هُمْ
वो
فِيهَا
उसमें
خَٰلِدُونَ
हमेशा रहने वाले हैं

Wain ta'jab fa'ajabun qawluhum aitha kunna turaban ainna lafee khalqin jadeedin olaika allatheena kafaroo birabbihim waolaika alaghlalu fee a'naqihim waolaika ashabu alnnari hum feeha khalidoona

अब यदि तुम्हें आश्चर्य ही करना है तो आश्चर्य की बात तो उनका यह कहना है कि ,'क्या जब हम मिट्टी हो जाएँगे तो क्या हम नए सिरे से पैदा भी होंगे?' वही हैं जिन्होंने अपने रब के साथ इनकार की नीति अपनाई और वही है, जिनकी गर्दनों मे तौक़ पड़े हुए है और वही आग (में पड़ने) वाले है जिसमें उन्हें सदैव रहना है

Tafseer (तफ़सीर )
وَيَسْتَعْجِلُونَكَ
और वो जल्दी माँगते हैं आपसे
بِٱلسَّيِّئَةِ
बुराई (अज़ाब) को
قَبْلَ
पहले
ٱلْحَسَنَةِ
भलाई से
وَقَدْ
हालाँकि तहक़ीक़
خَلَتْ
गुज़र चुकीं
مِن
इनसे पहले
قَبْلِهِمُ
इनसे पहले
ٱلْمَثُلَٰتُۗ
इबरतनाक मिसालें
وَإِنَّ
और बेशक
رَبَّكَ
रब आपका
لَذُو
अलबत्ता बख़्शिश वाला है
مَغْفِرَةٍ
अलबत्ता बख़्शिश वाला है
لِّلنَّاسِ
लोगों के लिए
عَلَىٰ
बावजूद उनके ज़ुल्म के
ظُلْمِهِمْۖ
बावजूद उनके ज़ुल्म के
وَإِنَّ
और बेशक
رَبَّكَ
रब आपका
لَشَدِيدُ
अलबत्ता सख़्त
ٱلْعِقَابِ
सज़ा वाला है

Wayasta'jiloonaka bialssayyiati qabla alhasanati waqad khalat min qablihimu almathulatu wainna rabbaka lathoo maghfiratin lilnnasi 'ala thulmihim wainna rabbaka lashadeedu al'iqabi

वे भलाई से पहले बुराई के लिए तुमसे जल्दी मचा रहे हैं, हालाँकि उनसे पहले कितनी ही शिक्षाप्रद मिसालें गुज़र चुकी है। किन्तु तुम्हारा रब लोगों को उनके अत्याचार के बावजूद क्षमा कर देता है और वास्तव में तुम्हारा रब दंड देने में भी बहुत कठोर है

Tafseer (तफ़सीर )
وَيَقُولُ
और कहते हैं
ٱلَّذِينَ
वो जिन्होंने
كَفَرُوا۟
कुफ़्र किया
لَوْلَآ
क्यों नहीं
أُنزِلَ
उतारी गई
عَلَيْهِ
उस पर
ءَايَةٌ
कोई निशानी
مِّن
उसके रब की तरफ़ से
رَّبِّهِۦٓۗ
उसके रब की तरफ़ से
إِنَّمَآ
बेशक
أَنتَ
आप तो
مُنذِرٌۖ
डराने वाले हैं
وَلِكُلِّ
और वास्ते हर
قَوْمٍ
क़ौम के
هَادٍ
एक हादी है

Wayaqoolu allatheena kafaroo lawla onzila 'alayhi ayatun min rabbihi innama anta munthirun walikulli qawmin hadin

जिन्होंने इनकार किया, वे कहते हैं, 'उसपर उसके रब की ओर से कोई निशानी क्यों नहीं अवतरित हुई?' तुम तो बस एक चेतावनी देनेवाले हो और हर क़ौम के लिए एक मार्गदर्शक हुआ है

Tafseer (तफ़सीर )
ٱللَّهُ
अल्लाह
يَعْلَمُ
जानता है
مَا
जो कुछ
تَحْمِلُ
उठाती है
كُلُّ
हर
أُنثَىٰ
मादा
وَمَا
और जो कुछ
تَغِيضُ
कमी करते हैं
ٱلْأَرْحَامُ
रहम
وَمَا
और जो कुछ
تَزْدَادُۖ
वो ज़्यादा करते हैं
وَكُلُّ
और हर
شَىْءٍ
चीज़
عِندَهُۥ
उसके पास
بِمِقْدَارٍ
साथ एक अन्दाज़े के है

Allahu ya'lamu ma tahmilu kullu ontha wama tagheedu alarhamu wama tazdadu wakullu shayin 'indahu bimiqdarin

किसी भी स्त्री-जाति को जो भी गर्भ रहता है अल्लाह उसे जान रहा होता है और उसे भी जो गर्भाशय में कमी-बेशी होती है। और उसके यहाँ हरेक चीज़ का एक निश्चित अन्दाज़ा है

Tafseer (तफ़सीर )
عَٰلِمُ
जानने वाला है
ٱلْغَيْبِ
ग़ैब
وَٱلشَّهَٰدَةِ
और हाज़िर का
ٱلْكَبِيرُ
सबसे बड़ा है
ٱلْمُتَعَالِ
बहुत बुलन्द है

'alimu alghaybi waalshshahadati alkabeeru almuta'ali

वह परोक्ष और प्रत्यक्ष का ज्ञाता है, महान है, अत्यन्त उच्च है

Tafseer (तफ़सीर )
سَوَآءٌ
यक्साँ/बराबर है
مِّنكُم
तुम में से
مَّنْ
जो
أَسَرَّ
छुपा कर करे
ٱلْقَوْلَ
बात को
وَمَن
और जो कोई
جَهَرَ
ज़ाहिर करे
بِهِۦ
उसे
وَمَنْ
और जो कोई
هُوَ
वो
مُسْتَخْفٍۭ
छुपने वाला है
بِٱلَّيْلِ
रात को
وَسَارِبٌۢ
और चलने वाला है
بِٱلنَّهَارِ
दिन को

Sawaon minkum man asarra alqawla waman jahara bihi waman huwa mustakhfin biallayli wasaribun bialnnahari

तुममें से कोई चुपके से बात करे और जो कोई ज़ोर से और जो कोई रात में छिपता हो और जो दिन में चलता-फिरता दीख पड़ता हो उसके लिए सब बराबर है

Tafseer (तफ़सीर )
कुरान की जानकारी :
अर र’आद
القرآن الكريم:الرعد
आयत सजदा (سجدة):15
सूरा (latin):Ar-Ra'd
सूरा:13
कुल आयत:43
कुल शब्द:855
कुल वर्ण:3506
रुकु:6
वर्गीकरण:मदीनन सूरा
Revelation Order:96
से शुरू आयत:1707