Skip to main content
bismillah
صٓۚ
ص
وَٱلْقُرْءَانِ
क़सम है क़ुरआन
ذِى
नसीहत वाले की
ٱلذِّكْرِ
नसीहत वाले की

Sad waalqurani thee alththikri

साद। क़सम है, याददिहानी-वाले क़ुरआन की (जिसमें कोई कमी नहीं कि धर्मविरोधी सत्य को न समझ सकें)

Tafseer (तफ़सीर )
بَلِ
बल्कि
ٱلَّذِينَ
वो लोग जिन्होंने
كَفَرُوا۟
कुफ़्र किया
فِى
तकब्बुर में
عِزَّةٍ
तकब्बुर में
وَشِقَاقٍ
और मुख़ालिफ़त में हैं

Bali allatheena kafaroo fee 'izzatin washiqaqin

बल्कि जिन्होंने इनकार किया वे गर्व और विरोध में पड़े हुए है

Tafseer (तफ़सीर )
كَمْ
कितनी ही
أَهْلَكْنَا
हलाक कीं हमने
مِن
उनसे पहले
قَبْلِهِم
उनसे पहले
مِّن
उम्मतें
قَرْنٍ
उम्मतें
فَنَادَوا۟
तो उन्होंने पुकारा
وَّلَاتَ
और ना थी
حِينَ
उस वक़्त
مَنَاصٍ
कोई पनाहगाह

Kam ahlakna min qablihim min qarnin fanadaw walata heena manasin

उनसे पहले हमने कितनी ही पीढ़ियों को विनष्ट किया, तो वे लगे पुकारने। किन्तु वह समय हटने-बचने का न था

Tafseer (तफ़सीर )
وَعَجِبُوٓا۟
और उन्होंने ताअज्जुब किया
أَن
कि
جَآءَهُم
आया उनके पास
مُّنذِرٌ
एक डराने वाला
مِّنْهُمْۖ
उनमें से
وَقَالَ
और कहा
ٱلْكَٰفِرُونَ
काफ़िरों ने
هَٰذَا
ये है
سَٰحِرٌ
जादूगर
كَذَّابٌ
सख़्त झूठा

Wa'ajiboo an jaahum munthirun minhum waqala alkafiroona hatha sahirun kaththabun

उन्होंने आश्चर्य किया इसपर कि उनके पास उन्हीं में से एक सचेतकर्ता आया और इनकार करनेवाले कहने लगे, 'यह जादूगर है बड़ा झूठा

Tafseer (तफ़सीर )
أَجَعَلَ
क्या उसने बना लिया
ٱلْءَالِهَةَ
बहुत से इलाहों को
إِلَٰهًا
इलाह
وَٰحِدًاۖ
एक ही
إِنَّ
बेशक
هَٰذَا
ये
لَشَىْءٌ
अलबत्ता एक चीज़ है
عُجَابٌ
बहुत अजीब

Aja'ala alalihata ilahan wahidan inna hatha lashayon 'ujabun

क्या उसने सारे उपास्यों को अकेला एक उपास्य ठहरा दिया? निस्संदेह यह तो बहुत अचम्भेवाली चीज़ है!'

Tafseer (तफ़सीर )
وَٱنطَلَقَ
और चल दिए
ٱلْمَلَأُ
सरदार
مِنْهُمْ
उनमें से
أَنِ
कि
ٱمْشُوا۟
चलो
وَٱصْبِرُوا۟
और जमे रहो
عَلَىٰٓ
अपने इलाहों पर
ءَالِهَتِكُمْۖ
अपने इलाहों पर
إِنَّ
बेशक
هَٰذَا
ये
لَشَىْءٌ
अलबत्ता एक चीज़ है
يُرَادُ
जो इरादा की जारही है

Waintalaqa almalao minhum ani imshoo waisbiroo 'ala alihatikum inna hatha lashayon yuradu

और उनके सरदार (यह कहते हुए) चल खड़े हुए कि 'चलते रहो और अपने उपास्यों पर जमें रहो। निस्संदेह यह वांछिच चीज़ है

Tafseer (तफ़सीर )
مَا
नहीं
سَمِعْنَا
सुनी हमने
بِهَٰذَا
ये (बात)
فِى
मिल्लत में
ٱلْمِلَّةِ
मिल्लत में
ٱلْءَاخِرَةِ
पिछली
إِنْ
नहीं
هَٰذَآ
ये
إِلَّا
मगर
ٱخْتِلَٰقٌ
मन गढ़त

Ma sami'na bihatha fee almillati alakhirati in hatha illa ikhtilaqun

यह बात तो हमने पिछले धर्म में सुनी ही नहीं। यह तो बस मनघड़त है

Tafseer (तफ़सीर )
أَءُنزِلَ
क्या नाज़िल की गई
عَلَيْهِ
उस पर
ٱلذِّكْرُ
नसीहत
مِنۢ
हमारे दर्मियान से
بَيْنِنَاۚ
हमारे दर्मियान से
بَلْ
बल्कि
هُمْ
वो
فِى
शक में हैं
شَكٍّ
शक में हैं
مِّن
मेरी नसीहत से
ذِكْرِىۖ
मेरी नसीहत से
بَل
बल्कि
لَّمَّا
अभी तक नहीं
يَذُوقُوا۟
उन्होंने चखा
عَذَابِ
अज़ाब मेरा

Aonzila 'alayhi alththikru min baynina bal hum fee shakkin min thikree bal lamma yathooqoo 'athabi

क्या हम सबमें से (चुनकर) इसी पर अनुस्मृति अवतरित हुई है?' नहीं, बल्कि वे मेरी अनुस्मृति के विषय में संदेह में है, बल्कि उन्होंने अभी तक मेरी यातना का मज़ा चखा ही नहीं है

Tafseer (तफ़सीर )
أَمْ
क्या
عِندَهُمْ
उनके पास
خَزَآئِنُ
ख़ज़ाने हैं
رَحْمَةِ
रहमत के
رَبِّكَ
आपके रब की
ٱلْعَزِيزِ
जो बड़ा ज़बरदस्त हैं
ٱلْوَهَّابِ
बहुत अता करने वाला है

Am 'indahum khazainu rahmati rabbika al'azeezi alwahhabi

या, तेरे प्रभुत्वशाली, बड़े दाता रब की दयालुता के ख़ज़ाने उनके पास है?

Tafseer (तफ़सीर )
أَمْ
या
لَهُم
उनके लिए
مُّلْكُ
बादशाहत है
ٱلسَّمَٰوَٰتِ
आसमानों
وَٱلْأَرْضِ
और ज़मीन की
وَمَا
और जो
بَيْنَهُمَاۖ
दर्मियान है उन दोनों के
فَلْيَرْتَقُوا۟
पस चाहिए कि वो चढ़ जाऐं
فِى
रास्तों में (आसमान के)
ٱلْأَسْبَٰبِ
रास्तों में (आसमान के)

Am lahum mulku alssamawati waalardi wama baynahuma falyartaqoo fee alasbabi

या, आकाशों और धरती और जो कुछ उनके बीच है, उन सबकी बादशाही उन्हीं की है? फिर तो चाहिए कि वे रस्सियों द्वारा ऊपर चढ़ जाए

Tafseer (तफ़सीर )
कुरान की जानकारी :
स’आद
القرآن الكريم:ص
आयत सजदा (سجدة):24
सूरा (latin):Sad
सूरा:38
कुल आयत:88
कुल शब्द:732
कुल वर्ण:3760
रुकु:5
वर्गीकरण:मक्कन सूरा
Revelation Order:38
से शुरू आयत:3970